राजस्थान में भारी बारिश, पटरियां पानी में डूबीं:अलवर में ढाई सेंटीमीटर बारिश, सीकर में थोड़ी सी बरसात में सड़कें दरिया बनीं; ठिठुरन बढ़ी

By | February 9, 2022

उत्तरी भारत में एक्टिव हुए पश्चिमी विक्षोभ का असर बीकानेर, जयपुर संभाग के जिलों में देखने को मिला है। पिछले 24 घंटे के दौरान जयपुर, गंगानगर, बीकानेर, चूरू, सीकर, अलवर, अजमेर, झुंझुनूं जिलों में कई जगहों पर बारिश हुई है। सबसे ज्यादा अलवर में 2.2 सेंटीमीटर यानी 22MM बरसात दर्ज हुई। मौसम में आए इस बदलाव के बाद सर्द हवाएं चलने लग गई, जिससे ठिठुरन बढ़ गई।

जयपुर मौसम केन्द्र से मिली रिपोर्ट के मुताबिक अलवर में मंगलवार देर शाम से रूक-रूककर बरसात हुई। अलवर, चूरू, सीकर में भी अच्छी बरसात हुई। सीकर में थोड़ी ही बारिश में सड़कें दरिया बन गई, रेलवे स्टेशन पर पटरियां पानी में डूबी नजर आई। बीकानेर, गंगानगर में देर शाम बरसात से सड़कों पर पानी भर गया। वहीं जयपुर, झुंझुनूं, दौसा में देर शाम से बादल छाए रहे। बीकानेर में भी देर रात करीब 5MM बरसात हुई। चूरू में 9MM, फतेहपुर में 6MM बरसात रिकॉर्ड की गई।

जयपुर में देर रात कई जगह झमाझम
जयपुर शहर में देर रात छितराई बारिश हुई। जयपुर में वैशाली नगर, रामगढ़ मोड़, टोंक रोड, अजमेर रोड समेत कई जगहों पर छितराई बारिश हुई। वहीं ग्रामीण इलाकों में भी बीती रात बारिश हुई। दिल्ली बाईपास स्थित विराट नगर, शाहपुरा, जमवारामगढ़, कोटपूतली, किशनगढ़-रेनवाल, फुलेरा, सांभर, चौंमू, चाकसू में बरसात हुई। जयपुर कलेक्ट्रेट पर देर रात से अलसुबह तड़के तक 9MM बरसात हुई। जयपुर में सबसे ज्यादा 16MM बारिश शाहपुरा कस्बे में हुई। विराट नगर में 10, कोटपूतली-आमेर में 5-5, जमवारामगढ़ 7, फुलेरा 8 और चाैंमू में 4MM बरसात हुई। जयपुर मौसम केंद्र के मुताबिक आज अलवर, भरतपुर, धौलपुर जिलों में बारिश और हो सकती है। 10 फरवरी से प्रदेश में मौसम पूरी तरह साफ हो जाएगा और धूप निकलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.